• micro-blog
  • WechatWechat QR code

गुआनडोंग प्रांतिय लोक्स सरकार का होम पृष्ठ  >  News trends  >  Guangdong highlights

गोवा इंग्लिश

स्रोत: Nanfang Daily Online Edition     time: 2021-10-28 19:16:44

जैकपॉट प्रश्नोत्तरी उत्तर आज गोवा इंग्लिश 10cric ऐप पुराना संस्करण,betway यूके,लियोवेगैस इंडिया,lovebet एपीआई,lovebet लॉगिन ऑनलाइन,lovebet बनाम शिखर,बैकारेट के लिए एक अच्छा मंच,बैकारेट क्रैकिंग इंस्ट्रूमेंट,बैकरेट शॉर्ट-सर्किट प्ले,सट्टेबाजी सट्टेबाज,कैसीनो 247,कैसीनो रोयाले गोवा,चोंगकिंग लकी फार्म,क्रिकेट घी,डीएच फुटबॉल जूते,यूरोपीय कप कार्यक्रम के परिणाम,फ़ुटबॉल इंस्टेंट गोइंग ऑड्स,उत्पत्ति कैसीनो एंड्रॉइड ऐप,एचडी फुटबॉल लाइव एपीके,आईपीएल सभी टीम,जैकपॉट kl,लाइव ब्लैकजैक क्रिप्टो,लाइव रूले ऑनलाइन यूएसए,लॉटरी द मास,एमआरसीपी बेस्ट ऑफ फाइव क्वेश्चन,ऑनलाइन कैसीनो या गोल्डन सिटी,ऑनलाइन पोकर android,पी पोकर क्रॉसवर्ड,पोकर दा इल्हा,बैकरेट जोड़े की प्रायिकता,शाही सड़क,रम्मी ओ kmart,स्लॉट मशीन एल्गोरिथ्म हैक,स्लॉट्स पर आप असली पैसा जीत सकते हैं,स्पोर्ट्सबुक एजी,टेक्सास होल्डम कार्ड रैंकिंग,स्लॉट खेल,फ़ुटबॉल ऑनलाइन गेम क्या हैं,विश्व फुटबॉल वेबसाइट,इलेक्ट्रॉनिक खेल bihar,कैसीनो के खेल hdf,गुआंग्डोंग 11 चयनित 5,जोकर मोबाइल,फुटबॉल ट्रेनिंग,बेटा ज्ञान,लॉटरी इनाम,स्पोर्ट्स टीवी ,फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

  


  

फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

  फ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

फंड हाउस ने 23 अप्रैल को छह डेट म्यूचुअल फंड योजनाओं को बंद कर दिया था. इन आधा दर्जन फंडों का एसेट अंडर मैनेजमेंट करीब 25,000 करोड़ रुपये का था.
नई दिल्ली: फ्रैंकलिन टेंपलटन म्यूचुअल फंड ने शुक्रवार को कहा कि उसकी छह योजनाओं को अप्रैल 2020 में बंद होने के बाद से मैच्योरिटी, पूर्व भुगतान और कूपन भुगतान से 15,776 करोड़ रुपये मिले हैं.

फंड हाउस ने 23 अप्रैल को छह डेट म्यूचुअल फंड योजनाओं को बंद कर दिया था. इसके लिए डेट बाजार में लिक्विडिटी की कमी तथा लोगों द्वारा निकासी के दबाव का हवाला दिया गया था. इन आधा दर्जन फंडों का एसेट अंडर मैनेजमेंट (एयूएम) करीब 25,000 करोड़ रुपये का था.

ये योजनाएं 'फ्रैंकलिन इंडिया लो ड्यूरेशन फंड, फ्रैंकलिन इंडिया डायनेमिक एक्यूरल फंड, फ्रैंकलिन इंडिया क्रेडिट रिस्क फंड, फ्रैंकलिन इंडिया शॉर्ट टर्म इनकम प्लान, फ्रैंकलिन इंडिया अल्ट्रा शॉर्ट बॉन्ड फंड और फ्रैंकलिन इंडिया इनकम अपर्चुनिटीज फंड' हैं.

इसे भी पढ़ें: इनकम टैक्स भरने के लिए जारी हुआ नया आईटीआर फॉर्म, जानिए क्या हैं बदलाव

कंपनी ने अपने बयान में कहा, "छह योजनाओं को 31 मार्च, 2021 तक कुल 15,776 करोड़ रुपये का नकदी मिली है." इस साल 31 मार्च को समाप्त हुए पखवाड़े में इन योजनाओं को 505 करोड़ रुपये मिले हैं.

फंड हाउस ने कहा कि फ्रैंकलिन इंडिया इनकम ऑपर्चुनिटीज फंड ने अपने सभी बकाया उधारी को चुका दिया है. इस तरह अब सभी छह योजनाएं नकदी के हिसाब से सकारात्मक हो गई हैं और इनके पास 1,370 करोड़ रुपये का फंड बचा हुआ है.




हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

फ्रैंकलिन टेंमपलटन म्यूचुअल फंडफ्रैंकलिन टेंमपलटन डेट म्यूचुअल फंडसेबीशेयर बाजारफ्रैंकलिन टेंमपलटनम्यूचुअल फंड्सफ्रैंकलिन टेंमपलटन डेट फंडफ्रैंकलिन टेंमपलटन की बंद स्कीमें

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

ईटीएफ के बारे में यहां जानिए अपने हर सवाल का जवाब

चूंकि एफओएफ दूसरी म्‍यूचुअल फंड स्‍कीमों में निवेश करते हैं. लिहाजा, डुप्‍लीकेशन की कॉस्‍ट आ सकती है.डेट म्‍यूचुअल फंडों की कई कैटेगरी हैं. मनी मार्केट म्‍यूचुअल फंड उनमें से एक है. ये स्‍कीमें उन लोगों के लिए मुफीद होती हैं जो अपने निवेश के साथ बहुत कम जोखिम लेना चाहते हैं. चूंकि ये स्‍कीमें छोटी अवधि के इंस्‍ट्रूमेंट में पैसा लगाती हैं. इसलिए इन पर अर्थव्‍यवस्‍था में ब्‍याज दर में होने वाले बदलाव का ज्‍यादा असर नहीं पड़ता है. मनी मार्केट इंस्‍ट्रूमेंट के साथ कम जोखिम होने के कारण भी इनमें निवेश अपेक्षाकृत सुरक्षित होता है. आइए, यहां इनके बारे में कुछ जरूरी बातों को जानते हैं.भारत में सोने की मांग कोविड-पूर्व स्तर पर वापस, सितंबर तिमाही में 47% का उछाल: डब्ल्यूजीसी

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) हाजिर बाजार में मजबूती के रुख के कारण वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को जस्ता की कीमत 3.85 रुपये की तेजी के साथ 284 रुपये प्रति किलो हो गयी। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में नवंबर माह में डिलीवरी होने वाले अनुबंध के लिये जस्ता का भाव 3.85 रुपये यानी 1.37 प्रतिशत बढ़कर 284 रुपये प्रति किलो हो गया। इसमें 1,098 लॉट के लिये सौदे किये गये। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि हाजिर बाजार में उपभोक्ता उद्योगों की मांग बढ़ने के बाद कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससेनयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) मजबूत हाजिर मांग के बीच सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे स्थानीय वायदा बाजार में बृहस्पतिवार को सोने का भाव 18 रुपये बढ़कर 47,980 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में दिसंबर महीने की डिलिवरी के लिये सोने की कीमत 18 रुपये यानी 0.04 प्रतिशत बढ़कर 47,980 रुपये प्रति 10 ग्राम हो गई। इसमें 10,402 लॉट के लिये कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा ताजा सौदों की लिवाली करने से सोना वायदा कीमतों में तेजी आई। वैश्विक स्तर पर न्यूयार्क में सोने की कीमत 0.27 प्रतिशत की तेजीफ्रैंकलिन टेंपलटन की छह बंद योजनाओं को मिले 15,776 करोड़ रुपये

नयी दिल्ली 28 अक्टूबर (भाषा) कमजोर हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को कम किया जिससे वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को कच्चे तेल की कीमत 76 रुपये की गिरावट के साथ 6,144 रुपये प्रति बैरल रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में कच्चातेल के नवंबर माह में डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत 76 रुपये अथवा 1.22 प्रतिशत की गिरावट के साथ 6,144 रुपये प्रति बैरल रह गई जिसमें 5,774 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कमजोर हाजिर मांग के बीच व्यापारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से वायदा कारोबार में कच्चानयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) हाजिर बाजार में मजबूती के रुख के कारण वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को जस्ता की कीमत 3.85 रुपये की तेजी के साथ 284 रुपये प्रति किलो हो गयी। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में नवंबर माह में डिलीवरी होने वाले अनुबंध के लिये जस्ता का भाव 3.85 रुपये यानी 1.37 प्रतिशत बढ़कर 284 रुपये प्रति किलो हो गया। इसमें 1,098 लॉट के लिये सौदे किये गये। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि हाजिर बाजार में उपभोक्ता उद्योगों की मांग बढ़ने के बाद कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को बढ़ाया जिससेमजबूत हाजिर मांग से निकेल वायदा कीमतों में तेजी



Relevant reports:कौन सा खेल सट्टेबाजी सबसे अच्छा है
Relevant reports:खुश किसान उकलूले
Relevant reports:स्पोर्ट्स राजस्थान
Relevant reports:खेल 800
Relevant reports:तीन पत्ती हेल्पलाइन नंबर
Relevant reports:आईपीएल कब होगा
Relevant reports:रमी मोबाइल जीरो
Relevant reports:lovebet 6 प्रश्न
Relevant reports:लॉटरी रिजल्ट टुडे
Relevant reports:लकी 7 लवबेट
Relevant reports:पोकर विकिपीडिया
Relevant reports:बैकारेट तेल
Relevant reports:बरसात आजा आजा
Relevant reports:फुटबॉल लॉटरी qa
Relevant reports:परिमच रिव्यू Quora
Relevant reports:स्लॉट इस्तेमाल किए गए 4 में से 1
Relevant reports:खुश किसान व्लार्डिंगन
Relevant reports:जुआ प्लेटफार्म नेटवर्क
Relevant reports:apk
Relevant reports:प्वाइंट रम्मी प्ले
Relevant reports:खेलो पर जुआ ya
Relevant reports:त्रिभुज क्रिकेट लाइव
Relevant reports:क्रिकेट कल
Relevant reports:ऑनलाइन स्लॉट उसी दिन पेआउट
Relevant reports:जेट कैसीनो
Relevant reports:क्रिकेट एकेडमी फ्री
Relevant reports:lovebet औ

【font:large in Small
प्रतिलिपि अधिकार: दक्षिण न्यूज नेटवर्कगुआनडोंग आईसीपी तैयार 05070829 website identification code 4400000131
Sponsor: नान्फांग न्यूज़र नेटवर्क co sponsor: Guangdong Provincial Economic and Information Technology Commission contractor: Nanfang news network
1024 is recommended × Browser with 768 resolution above IE7.0