• micro-blog
  • WechatWechat QR code

गुआनडोंग प्रांतिय लोक्स सरकार का होम पृष्ठ  >  News trends  >  Guangdong highlights

भारत में लॉटरी विजेता

स्रोत: Nanfang Daily Online Edition     time: 2021-10-28 20:25:45

भारत में ऑनलाइन कैसीनो कानूनी भारत में लॉटरी विजेता 188bet फुटबॉल भविष्यवाणी,casumo राजस्व,lovebet 1 मिलियन कोर्ट केस,lovebet ई स्पोर्ट्स,lovebet plus.c,lovebet-288,बी शतरंज,बैकारेट कैसे खेलें,बैकारेट चिड़ियाघर बंदर,बेटिंग विश्वसनीय वेबसाइट पहचान,कैसीनो दिन संपर्क,कैसीनो.कॉम कोई जमा नहीं,आओ गीत पर रेडियो चालू करें,क्रिकेट फोन,एस्पोर्ट्स निबंध,मछली पकड़ने का ग्रह सोने की भीड़,फुटबॉल स्लॉट मशीन,बांग्लादेश क्रिकेट टीम के बारे में जीके,फुटबॉल बाधाओं की व्याख्या कैसे करें,आईपीएल विजेता 2020,जुएगो रम्मी-0,लाइव कैसीनो मुक्त,लॉटरी एक अर्थ,लूडो एक्सप्रेस,Baccarat में बहुत से लोग पैसे नहीं खोते हैं,ऑनलाइन जुआ मंच सॉफ्टवेयर,ऑनलाइन पोकर संयुक्त अरब अमीरात,परिमच पंजीकरण,पोकर और पिएनीडज़े डब्ल्यू पोल्ससी,प्रतिष्ठित शतरंज कक्ष,नियम तीन,रम्मीकल्चर कैश एपीके डीएपीकेप्योर,स्लॉट मशीन टैटू,स्पोर्ट्स बाइक की कीमत,स्पोर्ट्सबुक यूके,टेक्सस होल्डम अनब्लॉक पोकर ऑनलाइन खेलें,आप पोकर समीक्षा,लाइव फुटबॉल स्कोर कहां देखें,जैप वर्चुअल क्रिकेट सिम्युलेटर,ऑनलाइन जुआ online,क्रिकेट test,गोवा न्यूज़ हिंदी में,तीन पत्ती जीतने का मंत्र,बकरा बाजार,बैकारेट bank,सट्टेबाजी समारोह, ,वर्ष 2021-22 चीनी सत्र में चीनी उत्पादन 2.18 प्रतिशत घटकर 3.05 करोड़ टन रहने का अनुमान: इस्मा

  


  

वर्ष 2021-22 चीनी सत्र में चीनी उत्पादन 2.18 प्रतिशत घटकर 3.05 करोड़ टन रहने का अनुमान: इस्मा

  वर्ष 2021-22 चीनी सत्र में चीनी उत्पादन 2.18 प्रतिशत घटकर 3.05 करोड़ टन रहने का अनुमान: इस्मा

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) भारत का चीनी उत्पादन चालू 2021-22 सत्र में 2.18 प्रतिशत घटकर 3.05 करोड़ टन रहने का अनुमान है, जिसका मुख्य कारण इथेनॉल उत्पादन के लिए चीनी का उपयोग किया जाना है। भारतीय चीनी मिल संघ (इस्मा) ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी।

इसमें कहा गया है कि देश को 2021-22 सत्र (अक्टूबर-सितंबर) में करीब 60 लाख टन अतिरिक्त चीनी का निर्यात जारी रखना होगा।

वर्ष 2020-21 के सत्र में चीनी का उत्पादन तीन करोड़ 11.8 लाख टन का हुआ था।

ब्राजील के बाद दुनिया का दूसरा सबसे बड़ा चीनी उत्पादक देश, भारत, अपने इथेनॉल मिश्रण कार्यक्रम के लिए बड़े पैमाने पर गन्ने का उपयोग कर रहा है।

उद्योग निकाय, इस्मा ने पहला अनुमान जारी करते हुए कहा कि 2021-22 सत्र में गन्ने की पेराई कुछ क्षेत्रों में शुरू हो चुकी है और देश के अन्य क्षेत्रों में जल्द ही पेराई शुरू होने की उम्मीद है।

उसने कहा, ‘‘इस्मा ने 2021-22 में लगभग 3.05 करोड़ टन चीनी उत्पादन का अनुमान लगाया है, जो जुलाई 2021 में जारी किए गए 3.1 करोड़ टन के प्रारंभिक अनुमान से कम है।’’

इसने कहा है कि महाराष्ट्र में चीनी का उत्पादन एक करोड़ 22.5 लाख टन, उत्तर प्रदेश में एक करोड़ 13.5 लाख टन, कर्नाटक में 49.5 लाख टन होने का अनुमान है जिसमें इथेनॉल के लिए चीनी का उपयोग किये जाने को शामिल नहीं किया गया है।

देश में ये शीर्ष तीन चीनी उत्पादक राज्य हैं।

इस्मा ने कहा कि उसे उत्तर प्रदेश में विशेष रूप से पूर्वी क्षेत्र में बेमौसम बारिश के कारण उपज में मामूली गिरावट और चीनी से शीरे की प्राप्ति में कमी आने की उम्मीद है।

महाराष्ट्र में भी पिछले वर्ष के मुकाबले प्रति हेक्टेयर ऊपज थोड़ा कम रहने की उम्मीद है।

शेष राज्यों से 2021-22 सत्र में सामूहिक रूप से 53.1 लाख टन चीनी का उत्पादन होने की उम्मीद है।

उच्च इथेनॉल उत्पादन क्षमता और निरंतर अधिशेष गन्ना उपलब्धता होने के कारण, 2021-22 सत्र में गन्ने के रस या सिरप और बी-शीरा की एक बड़ी मात्रा का उपयोग इथेनॉल उत्पादन में किया जाएगा।

इस्मा द्वारा जारी प्रारंभिक अनुमानों के समान ही, यह अनुमान लगाया गया है कि इथेनॉल बनाने के लिए गन्ने के रस एवं बी-शीरा के हस्तांतरण से 2021-22 के सत्र में चीनी उत्पादन में लगभग 34 लाख टन की कमी आएगी।

हालांकि, वर्ष 2021-22 के लिए एथेनॉल की निविदा को अंतिम रूप दिए जाने के बाद गन्ने के हस्तांतरण की बेहतर तस्वीर का पता लगाया जा सकता है। एसोसिएशन ने कहा कि मिलों ने पहले ही इथेनॉल आपूर्ति के लिए बोलियां जमा कर दी हैं।

इस्मा ने कहा कि एक अक्टूबर तक देश में 82.9 लाख टन चीनी का शुरुआती स्टॉक है, जो एक साल पहले की अवधि की तुलना में 25 लाख टन कम है।

लेकिन, यह अभी भी चालू सत्र के शुरुआती महीनों के लिए घरेलू आवश्यकता से अधिक है।

इस्मा, जनवरी 2022 में गन्ने और चीनी उत्पादन अनुमानों की फिर से समीक्षा करेगा।

(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)
(This story has not been edited by economictimes.com and is auto–generated from a syndicated feed we subscribe to.)

ETPrime stories of the day

Two’s company, three’s a cloud: the haze of Srei’s curious transactions with a trio of businessmen
Under the lens

Two’s company, three’s a cloud: the haze of Srei’s curious transactions with a trio of businessmen

6 mins read
As crude likely to hit 2008 highs, get ready to fork out INR150 for a litre of petrol
Oil prices

As crude likely to hit 2008 highs, get ready to fork out INR150 for a litre of petrol

7 mins read
3 Idiots clicked right, but India needs its own Samsung and Squid Game to hook global audience
Brands

3 Idiots clicked right, but India needs its own Samsung and Squid Game to hook global audience

12 mins read

पेट्रोल, डीजल की कीमत में वृद्धि के साथ सीएनजी पोर्टफोलियो का विस्तार करेगी मारुति सुजुकी

एनपीएस अकाउंट खोलते वक्त सब्सक्राइबर्स को विकल्प दिया जाता है. वे चाहें तो विभिन्न एसेट क्लास में खुद पैसा लगाएं. या फिर ऑटो च्‍वाइस ऑप्शन चुनें.मुंबई, 28 अक्टूबर (भाषा) शेयर बाजार में भारी गिरावट के बावजूद कच्चे तेल की कीमतों के नरम पड़ने से अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में बृहस्पतिवार को अमेरिकी मुद्रा के मुकाबले रुपया 11 पैसे की तेजी के साथ 74.92 (अस्थायी) प्रति डॉलर पर बंद हुआ। अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में रुपया 74.92 रुपये पर खुला तथा कारोबार के दौरान यह 74.76 से 74.94 रुपये के दायरे में रहा। अंत में यह पिछले कारोबारी सत्र के बंद भाव के मुकाबले 11 पैसे की तेजी के साथ 74.92 प्रति डॉलर पर बंद हुआ। बुधवार को रुपया सात पैसे की गिरावट के साथकमजोर हाजिर मांग के कारण कच्चातेल वायदा कीमतों में गिरावट

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) आईटी कंपनी कॉग्निजेंट ने बताया कि चालू वर्ष की तीसरी तिमाही (जुलाई-सितंबर) के दौरान उसकी शुद्ध आय 56.3 प्रतिशत बढ़कर 54.4 करोड़ डॉलर (करीब 4,073.2 करोड़ रुपये) हो गई। कंपनी ने उम्मीद जतायी कि वह चौथी तिमाही में भारत में 45,000 स्नातकों को रोजगार देगी। अमेरिका स्थित कंपनी की शुद्ध आय सितंबर 2020 तिमाही में 34.8 करोड़ डॉलर थी। कॉग्निजेंट ने कहा कि उद्योग में योग्य कामगारों की मांग-आपूर्ति में असंतुलन खासतौर से तेज बना हुआ है और तीसरी तिमाही में सालाना आधार पर 33 प्रतिशत लोगों ने कंपनी छोड़ दी।बेहतर और सरल रिटर्न के लिए निवेशक साधारण प्रोडक्ट्स का रुख कर रहे हैं. सरकार ने अप्रैल-जून तिमाही में ब्याज दरों में कोई बदलाव नहीं किया है.सेंसेक्स ने लगाया 1,159 अंक का गोता, निफ्टी 17,900 के नीचे आया

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) भारत का चीनी उत्पादन चालू 2021-22 सत्र में 2.18 प्रतिशत घटकर 3.05 करोड़ टन रहने का अनुमान है, जिसका मुख्य कारण इथेनॉल उत्पादन के लिए चीनी का उपयोग किया जाना है। भारतीय चीनी मिल संघ (इस्मा) ने बृहस्पतिवार को यह जानकारी दी। इसमें कहा गया है कि देश को 2021-22 सत्र (अक्टूबर-सितंबर) में करीब 60 लाख टन अतिरिक्त चीनी का निर्यात जारी रखना होगा। वर्ष 2020-21 के सत्र में चीनी का उत्पादन तीन करोड़ 11.8 लाख टन का हुआ था।साल में कम से कम एक बार निवेश की समीक्षा जरूर करें और उसे दोबारा बैलेंस करें.सेंसेक्स ने लगाया 1,159 अंक का गोता, निफ्टी 17,900 के नीचे आया



Relevant reports:इलेक्ट्रॉनिक खेल essay
Relevant reports:बिंदु रम्मी डाउनलोड
Relevant reports:लॉटरी कल रात संख्या
Relevant reports:लाटरी रिजल्ट नाईट
Relevant reports:क्रिकेट छोटा भीम
Relevant reports:बैकारेट बार
Relevant reports:लाइव रूले बिटकॉइन
Relevant reports:यूरोपीय फुटबॉल बच्चे की तस्वीरें
Relevant reports:बैकारेट lyrics
Relevant reports:शतरंज 24 ऑनलाइन
Relevant reports:r स्टेटस
Relevant reports:क्रिकेट और कबड्डी
Relevant reports:betway जाम्बिया संपर्क
Relevant reports:ऑनलाइन पोकर टूर्नामेंट
Relevant reports:क्या कोई नवीनतम और महानतम बोर्ड गेम है
Relevant reports:जैकपॉट पूरी फिल्म तेलुगु ऑनलाइन
Relevant reports:रूले लघुगणक सहायक
Relevant reports:बैकरेट मनोरंजन पात्र
Relevant reports:लॉटरी खेलने का
Relevant reports:भारत में खेल की किताबें
Relevant reports:फुटबॉल मैच आज
Relevant reports:कैसीनो रोयाले isaidub
Relevant reports:स्टेटस धार्मिक
Relevant reports:ek Patti वाला चप्पल
Relevant reports:लियोवेगास अक्सर पूछे जाने वाले प्रश्न
Relevant reports:जैकपॉट यूआईबी 4869
Relevant reports:मुफ़्त 5 रील कैसीनो स्लॉट

【font:large in Small
प्रतिलिपि अधिकार: दक्षिण न्यूज नेटवर्कगुआनडोंग आईसीपी तैयार 05070829 website identification code 4400000131
Sponsor: नान्फांग न्यूज़र नेटवर्क co sponsor: Guangdong Provincial Economic and Information Technology Commission contractor: Nanfang news network
1024 is recommended × Browser with 768 resolution above IE7.0