ऑनलाइन जुआ web

ऑनलाइन जुआ web

time:2021-10-28 19:37:17 रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत Views:4591

तीन पत्ती एपीके डाउनलोड ऑनलाइन जुआ web 10cric ऐप इंस्टॉल,betway ट्विटर,कैसे खेलें,lovebet एओ,lovebet लॉगिन लिंक,lovebet बनाम lovebet,एक फुटबॉल मैच,बैकरेट पटाखा,बैकरेट स्वयं सेवा विश्लेषण सॉफ्टवेयर,बेटिंग बंगाराजू मूवीरुल्ज़,कैसीनो 22bet,कैसीनो रूले,चेसस्ट्री एवेन्यू अल्किमोस,क्रिकेट गेम डाउनलोड APK,डीएच क्रिकेट,यूरोपीय कप शेड्यूल लाइव,फुटबॉल इंडेक्स लाइव स्कोर,उत्पत्ति कैसीनो,एचडी क्रिकेट वॉलपेपर,आईपीएल 2021 तालिका,जैकपॉट जॉय गेम्स,लाइव लाठी कार्ड खेल,लाइव रूले ऑनलाइन कैसीनो ब्रिटेन,लॉटरी टैक्स,एकाधिकार लाइव कैसीनो यूट्यूब,ऑनलाइन कैसीनो कोई जमा बोनस नहीं,ऑनलाइन योजना पोकर जीरा,पी लॉटरी पिक 3,पोकर सिक्के,बैकारेट के सिद्धांत,शाही रानी,रम्मी न्यू 2021,स्लॉट जीप,स्लॉट याकूब 5,Sports.r,टेक्सास होल्डम ब्लाट,फुटबॉल का आकार,बोर्ड गेम क्या हैं,विश्व फुटबॉल स्कोर,इलेक्ट्रिक खेलें,कैसीनो के खेल free,गांव खेड़ी,जोकर मटका,फुटबॉल टीम रैंकिंग,बेटा जन्मदिन शायरी,लॉटरी आज का रिजल्ट,स्पोर्ट्स जूता प्राइस .रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत

आंकड़ों से पता चलता है कि अप्रैल में भारी गिरावट के बाद फॉर्मल एम्‍प्‍लॉयमेंट (संगठित रोजगार) के हालात सामान्‍य हो रहे हैं.
नई दिल्‍ली : देशभर में लॉकडाउन के चलते लाखों लोगों की नौकरियां चली गई थीं. अब स्थिति सुधरती दिख रही है. आंकड़ों से पता चलता है कि अप्रैल में भारी गिरावट के बाद फॉर्मल एम्‍प्‍लॉयमेंट (संगठित रोजगार) के हालात सामान्‍य हो रहे हैं. इसके शुरुआती संकेत मिलने लगे हैं. जिन लोगों ने कर्मचारी भविष्‍य निधि (ईपीएफ) स्‍कीम को छोड़ा था, वे वापस इससे जुड़ रहे हैं. इस साल जून में ऐसे मेंबर्स की संख्‍या अब तक सबसे ज्‍यादा रही है. वहीं, स्‍कीम छोड़ने वालों की संख्‍या में भी तेज गिरावट आई है.

जून में कर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीम (ईएसआईसी) से जुड़ने वाले मेंबर्स की संख्‍या में भी तेज इजाफा हुआ है. आधिकारिक आंकड़ों से इसका पता चलता है. पेरोल के आंकड़े दिखाते हैं कि जून में स्‍कीम से 4.54 लाख मेंबर्स ईपीएफओ से निकले और दोबारा से जुड़ गए. मई में यह आंकड़ा 3.14 लाख और अप्रैल में 2.51 लाख रहा था. पिछले वित्‍त वर्ष में यह औसत 6.5 लाख रहा है.

इसे भी पढ़ें : इस साल हर दस में से सिर्फ 4 कंपनी ने दिया इंक्रीमेंट : सर्वे

स्‍कीम से निकलने वालों की संख्‍या में भी गिरावट आई है. जून में यह 2.99 लाख रही है. इसकी तुलना में मई में यह 4.45 लाख और अप्रैल में 4.08 लाख रही थी. ये आंकड़े देश में संगठित क्षेत्र में रोजगार की स्थिति को बयान करते हैं.

जून में ईपीएफओ से कुल 6.55 लाख नए सब्‍सक्राइबर जुड़े. अप्रैल में यह संख्‍या महज 20 हजार और मई में 1.72 लाख रही थी. केंद्रीय सांख्यिकी और कार्यक्रम कियान्‍वयन मंत्रालय के आंकड़ों से इसका पता चलता है. वित्‍त वर्ष 2019-20 में औसतन हर महीने 10 लाख नए सब्‍सक्राइबर स्‍कीम से जुड़े. वहीं, जून 2019 में कुल 12 लाख लोग स्‍कीम से जुड़े थे.

इसे भी पढ़ें : इन 8 वेबसाइट से आप कर सकते हैं ऑनलाइन कोर्स, करियर संवारने में मिलेगी मदद

25 मार्च से देश में तीन हफ्तों के लिए देशभर में लॉकडाउन कर दिया गया था. इसे बाद में कुछ रियायतों के साथ बढ़ाया जाता रहा. एक मई से सरकार ने अनलॉक की प्रक्रिया शुरू की. इसके तहत चरणबद्ध तरीके से बंदिशों को हटाया जा रहा है.

आंकड़ों के अनुसार, जून में ईएसआईसी से जुड़ने वालों की संख्‍या 7.92 लाख रही. में यह 4.76 लाख, जबकि अप्रैल में 2.58 लाख थी. वैसे, नए लोगों के जुड़ने का आंकड़ा कोरोना से पहले के स्‍तर से अब भी कम है. 2019-20 में स्‍कीम से हर महीने जुड़ने वालों का औसत आंकड़ा 12 लाख से ज्‍यादा था.

हिंदी में पर्सनल फाइनेंस और शेयर बाजार के नियमित अपडेट्स के लिए लाइक करें हमारा फेसबुक पेज. इस पेज को लाइक करने के लिए यहां क्लिक करें.

टॉपिक

रोजगार के हालातईपीएफओईएसआईसीकर्मचारी राज्‍य बीमा स्‍कीमकर्मचारी भविष्‍य न‍िधि संगठन

ETPrime stories of the day

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis
Logistics

As Christmas nears, China’s biggest shipper says there’s no end in sight for supply-chain crisis

4 mins read
China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.
R&D

China’s hypersonic missile test may be targeted at the US and the West. But India should be worried.

9 mins read
As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles
Insurance

As drones take off under fresh rules, insuring their flight still has a host of teething troubles

11 mins read

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) अंतरराष्ट्रीय बाजार में बहुमूल्य धातुओं की कीमतों में सुधार के बीच राष्ट्रीय राजधानी के सर्राफा बाजार में बृहस्पतिवार को सोना 112 रुपये की तेजी के साथ 47,050 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ। एचडीएफसी सिक्योरिटीज ने यह जानकारी दी। इससे पिछले कारोबारी सत्र में सोना 46,938 रुपये प्रति 10 ग्राम पर बंद हुआ था। इसके विपरीत, चांदी की कीमत 203 रुपये की गिरावट के साथ 63,767 रुपये प्रति किलोग्राम रह गयी। पिछले कारोबारी सत्र में यह 63,970 रुपये प्रति किलो के भाव पर बंद हुई थी। अंतरराष्ट्रीय बाजार में सोना गिरावट के साथ 1,803 डॉलरकई ग्राहक मोरेटोरियम और उससे पड़ने वाले असर को नहीं समझते हैं. इसे देखते हुए कलेक्‍शन में बाधा आई है.रोजगार के हालात में आ रहा सुधार, ईपीएफओ के आंकड़ों से मिले संकेत

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) सरकार ने फेसबुक को पत्र लिखकर सोशल मीडिया कंपनी द्वारा इस्तेमाल किए जाने वाले एल्गोरिदम और प्रक्रियाओं का विवरण मांगा है। यह कदम महत्व रखता है क्योंकि हाल ही में सामने आए फेसबुक के आंतरिक दस्तावेज बताते हैं कि कंपनी अपने सबसे बड़े बाजार भारत में भ्रामक सूचना, नफरत वाले भाषण और हिंसा पर जश्न से जुड़ी सामग्री की समस्या से दो-चार हो रही है। अमेरिकी मीडिया में आई खबर के मुताबिक सोशल मीडिया के शोधकर्ताओं ने रेखांकित किया है कि ऐसे समूह और पेज हैं जो ‘‘भ्रामक, भड़काऊ और मुस्लिम विरोधी सामग्री से भरेपहले चरण में 31,277 को जिलों का आवंटन हो गया है. इसमें से 15,933 टीचर सामान्‍य कैटेगरी के हैं. 8,513 अन्‍य पिछड़ा वर्ग, 6,615 अनुसूचित जाति और 215 अनुसूचित जनजाति के हैं.कमजोर हाजिर मांग से चांदी वायदा कीमतों में गिरावट

मुंबई, 28 अक्टूबर (भाषा) बीएसई सेंसेक्स बृहस्पतिवार को 1,159 अंक लुढ़क गया। वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच मासिक वायदा एवं विकल्प खंड में सौदों के निपटान के अंतिम दिन चौतरफा बिकवाली से यह गिरावट आयी। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 1,158.63 अंक यानी 1.89 प्रतिशत का गोता लगाकर 59,984.70 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 353.70 अंक यानी 1.94 प्रतिशत लुढ़क कर 17,857.25 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में आईटीसी 5 प्रतिशत से अधिक की गिरावट के साथ सर्वाधिक नुकसान में रहा। इसके अलावा, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक, एक्सिस बैंक, एसबीआईनयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) हाजिर बाजार में एलॉय निर्माताओं की मांग बढ़ने के बीच सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को निकेल वायदा भाव 0.64 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,529.70 रुपये प्रति किलो हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में नवंबर माह में डिलीवरी होने वाले निकेल अनुबंध का भाव 9.80 रुपये यानी 0.64 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,529.70 रुपये प्रति किलो हो गया। इसमें 1,439 लॉट के लिये सौदे किये गये। बाजार विश्लेषकोंBank Holidays November 2021: दिवाली की छुट्टियों समेत नवंबर में 17 दिन बंद रहने वाले हैं बैंक, चेक कर लें लिस्ट

पूरा पाठ विस्तारित करें
संबंधित लेख
गिनी खेल जैकपॉट डु पत्रिकाएं

कोरोना वायरस महामारी के चलते लागू किए गए लॉकडाउन के कारण विभिन्न क्षेत्रों में छंटनी, वेतन में कटौती या कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी रुक गई है. हालांकि, कई बड़े निजी क्षेत्र के बैंकों ने कर्मचारियों के वेतन में बढ़ोतरी की है.

जैकपॉट इन हिंदी मीनिंग

मुंबई, 28 अक्टूबर (भाषा) बीएसई सेंसेक्स बृहस्पतिवार को 1,159 अंक लुढ़क गया। वैश्विक स्तर पर कमजोर रुख के बीच मासिक वायदा एवं विकल्प खंड में सौदों के निपटान के अंतिम दिन चौतरफा बिकवाली से यह गिरावट आयी। तीस शेयरों पर आधारित सेंसेक्स 1,158.63 अंक यानी 1.89 प्रतिशत का गोता लगाकर 59,984.70 अंक पर बंद हुआ। इसी प्रकार, नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 353.70 अंक यानी 1.94 प्रतिशत लुढ़क कर 17,857.25 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स के शेयरों में आईटीसी 5 प्रतिशत से अधिक की गिरावट के साथ सर्वाधिक नुकसान में रहा। इसके अलावा, आईसीआईसीआई बैंक, कोटक बैंक, एक्सिस बैंक, एसबीआई

लियोवेगास समान साइटें

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) कारोबारियों द्वारा अपने सौदों का आकार घटाने से वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को चांदी की कीमत 109 रुपये की गिरावट के साथ 65,056 रुपये प्रति किलो रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के दिसंबर डिलीवरी वाले वायदा अनुबंध का भाव 109 रुपये यानी 0.17 प्रतिशत घटकर 65,056 रुपये प्रति किलो रह गया। इस वायदा अनुबंध में 10,188 लॉट के लिये सौदे किये गये। हालांकि, वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी का भाव 0.08 प्रतिशत की तेजी के साथ 24.21 डालर प्रति औंस हो गया।

एचडी क्रिकेट लाइव

सितंबर में समाप्त तिमाही में कंपनी के कर्मचारियों की संख्या 2,40,208 थी. कंपनी अपने जूनियर कर्मचारियों को तीसरी तिमाही में एकबारगी विशेष प्रोत्साहन देगी.

भारत में सट्टेबाजी ऐप्स

नयी दिल्ली, 28 अक्टूबर (भाषा) हाजिर बाजार में एलॉय निर्माताओं की मांग बढ़ने के बीच सटोरियों ने ताजा सौदों की लिवाली की जिससे वायदा कारोबार में बृहस्पतिवार को निकेल वायदा भाव 0.64 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,529.70 रुपये प्रति किलो हो गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में नवंबर माह में डिलीवरी होने वाले निकेल अनुबंध का भाव 9.80 रुपये यानी 0.64 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,529.70 रुपये प्रति किलो हो गया। इसमें 1,439 लॉट के लिये सौदे किये गये। बाजार विश्लेषकों

संबंधित जानकारी
गरम जानकारी